Tuesday, September 28, 2021
HomeReligionइस तरह से माता लक्ष्मी ने राजा बलि को राखी बांधकर की...

इस तरह से माता लक्ष्मी ने राजा बलि को राखी बांधकर की थी रक्षाबंधन की शुरुआत

वामन अवतार में जब भगवान विष्णु ने राजा बलि से 3 पग मांगे जिसके बाद राजा बलि से प्रसन्न होकर विष्णु जी ने उनसे वरदान मांगने को कहा -तब राजा बलि ने विष्णु जी से पाताल लोक में साथ रहने का वरदान माँगा। भगवान विष्णु तो अपने भक्त राजा बलि के साथ पाताल निवासी हो गए ,इधर माता लक्ष्मी को उनकी चिंता सताई जा रही थी। तब नारद मुनि ने माता लक्ष्मी को उपाय बताया

जिसे अपनाकर माता लक्ष्मी एक सुंदर स्त्री का भेष धरकर रोते हुए बलि के पास पहुंची और कहा कि उनका कोई भाई नहीं है जिससे वे दुखी हैं। राजा बलि ने उनसे कहा कि वे दुखी न हों आज से वे उनके भाई हैं। भाई बहन के पवित्र रिश्ते में बंधने के बाद मां लक्ष्मी ने बलि से उनके पहरेदार के रूप में सेवाएं दे रहे भगवान विष्णु को अपने लिए वापस मांग लिया और इस प्रकार नारायण संकट से मुक्त हुए। कहा जाता है कि तभी से पृथ्वी पर रक्षाबंधन पर्व की शुरुआत हुई है।

In this way Mata Lakshmi started Rakshabandhan by tying a rakhi to King Bali.

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments