Tuesday, September 28, 2021
HomeNewsCrimeउत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगे मामला : हाईकोर्ट ने जेएनयू, जामिया के छात्रों को...

उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगे मामला : हाईकोर्ट ने जेएनयू, जामिया के छात्रों को दी जमानत, निचली अदालत का आदेश खारिज

दिल्ली हाईकोर्ट ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगे के एक मामले में जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय की छात्राओं नताशा नरवाल, देवांगना कालिता और जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र आसिफ इकबाल तन्हा को मंगलवार को जमानत दे दी। इन लोगों को पिछले साल फरवरी में दंगों से जुड़े एक मामले में गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून के तहत मई 2020 में गिरफ्तार किया गया था। जस्टिस सिद्धार्थ मृदुल और जस्टिस एजे भंभानी की पीठ ने निचली अदालत के इन्हें जमानत न देने के आदेश को खारिज करते हुए तीनों को नियमित जमानत दे दी।

अदालत ने ‘पिंजड़ा तोड़’ कार्यकर्ताओं नताशा नरवाल, देवांगना कालिता और तन्हा को अपने-अपने पासपोर्ट जमा करने, गवाहों को प्रभावित न करने और सबूतों के साथ छेड़खानी न करने का निर्देश भी दिया। इन्हें 50-50 हजार रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि के दो जमानतदारों पर रिहा करने का निर्देश दिया। हाईकोर्ट ने कहा कि तीनों आरोपी किसी भी गैर-कानूनी गतिविधी में हिस्सा न लें और कारागार रिकॉर्ड में दर्ज पते पर ही रहें।

गौरतलब है कि 24 फरवरी 2020 को उत्तर-पूर्व दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसा भड़क गई थी, जिसने सांप्रदायिक टकराव का रूप ले लिया था। हिंसा में कम से कम 53 लोगों की मौत हो गई थी तथा करीब 200 लोग घायल हो गए थे।

uttar-poorvee dillee dange maamala : haeekort ne jeenayoo, jaamiya ke chhaatron ko dee jamaanat, nichalee adaalat ka aadesh khaarij
aakedekhhttp://aakedekh.in/
Aake Dekh एक प्रमुख हिंदी समाचार वेबसाइट आपके लिए नवीनतम समाचार, भारत और दुनिया से हिंदी में ब्रेकिंग
RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments