Saturday, September 25, 2021
HomeEntertainmentHealthआखिर क्यों 21 जून को ही योग दिवस मनाया जाता हैं ,जाने...

आखिर क्यों 21 जून को ही योग दिवस मनाया जाता हैं ,जाने वजह

साल 2015 से 21 जून को योग दिवस के रूप में मनाया जाता हैं। मनुष्य के लिए योग हर तरीके से फायदेमंद हैं। अपनी भारतीय संस्कृति को दुनियाभर में पहचान दिलाने के लिए इस दिन को चुना गया। आज के समय न केवल भारतीय बल्कि विदेशी लोग भी इस परम्परा को अपनाते हुए नज़र आ रहे हैं। योग अब हमारे जीवन का अहम् हिस्सा बन चूका हैं।  कई लोगो ने योग को पूरी तरह से अपनी जीवनशैली में अपना लिया हैं। और बीते साल आई महामारी कोरोना से बचाव के लिए भी योग अपनाने कि सलाह दी गई। 

अब बात करते हैं आखिर क्यों योगा दिवस के लिए 21  जून का ही दिन चुना। इसके पीछे एक खास वजह है.भारतीय संस्कृति के मुताबिक ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन हो जाता है। इस दिन उत्तरी गोलार्ध पर सबसे ज्यादा सूर्य की रोशनी पड़ती है। साल के 365 दिनों में से 21 जून साल का सबसे बड़ा दिन होता है। 21 जून के दिन सूर्य जल्दी उगता है और देरी से ढलता है।  कहा जाता है कि इस दिन सूर्य का तप सबसे ज्यादा प्रभावी होता है।  इसी वजह से 21 जून को इंटरनेशनल योगा डे’ के रूप पर मनाया जाता है।

इस बार सांतवा योग दिवस मनाया गया। सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते हुए सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए कोरोना से बचते हुए इस साल बड़ी ही दिलचस्प थीम रखी गई। ‘बी विद योग, ‘बी एट होम’ यानी ‘योग के साथ रहें, घर पर रहें’ जिसमे आम लोगो से लेकर बड़े बड़े नेता अभिनेता ने भी भाग लिया। 

\

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments