Friday, December 4, 2020
Home SECTIONS शाश्वत आत्मा

शाश्वत आत्मा

घटना सन‍् 1947 की अरुणाचल स्थित ‘रामणाश्रम’ की है। बीसवीं सदी के महान संत रमण महर्षि की बायीं भुजा में एक ट्यूमर हो गया। चिकित्सकों के एक दल ने ट्यूमर की शल्य चिकित्सा का परामर्श दिया। चूंकि महर्षि आश्रम से बाहर नहीं जाते थे, इसलिए शल्य चिकित्सकों का एक दल आश्रम में ही आ गया। ट्यूमर की शल्य क्रिया के दौरान पीड़ा न हो, इसके लिए महर्षि को एनेस्थेसिया दिया जाना था, जिसे महर्षि ने चिकित्सकों को यह कहते हुए मना कर दिया, ‘पीड़ा तो शरीर को होती है। जिस शरीर पर तुम शल्य क्रिया कर रहे हो, वह मैं नहीं हूं। मैंने स्वयं को देह से अलग कर रखा है।’ पूरी शल्य क्रिया के दौरान महर्षि दर्द के प्रति उदासीन रहे। शल्य क्रिया के बाद भी वह ट्यूमर ठीक नहीं हो पाया। चिकित्सकों ने भुजा को शरीर से अलग करने का परामर्श दिया। इसके लिए महर्षि ने यह कहकर मना कर दिया, ‘इस देह का प्राकृतिक अंत है। इसे पंगु बना देना उचित नहीं। इस नश्वर शरीर के लिए दुखी मत हो। आत्मा शाश्वत अमर है।’

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

DLCL:Under 14 यूपी 11 ने 9 विकटो से पंजाब किंग को हराया…

आज DLCL द्वारा winter league one day match अंडर 14 पंजाब किंग और यूपी 11 के बीच मुकाबला घेवरा में आयोजित हुआ ।आपको बता...

DLCL Under 19:मेन ऑफ़ दी मैच अभिषेक बने ….

आज DLCL द्वारा winter league one day match अंडर 19 पूर्वांचल एक्सप्रेस और यूपी 11 के बीच मुकाबला घेवरा में आयोजित हुआ ।आपको बता...

DLCL:Under 19 उत्तराखंड 11 ने 5 विकटो से की जीत हासिल…

आज DLCL द्वारा winter league one day match अंडर 19 उत्तराखंड 11 और हरियाणा 11 के बीच मुकाबला घेवरा में आयोजित हुआ ।आपको बता...

Dlcl Under 14: उत्तराखंड 11 ने बुरी तरह दिल्ली लिटल मास्टर को हराया…

आज DLCL द्वारा winter league one day match अंडर 14 उत्तराखंड 11 और दिल्ली लिटल मास्टर के बीच मुकाबला घेवरा में आयोजित हुआ ।आपको...

Recent Comments

Open chat