Tuesday, October 20, 2020
Home NEWS नवरात्र मेला कल से, तैयारियां पूरी

नवरात्र मेला कल से, तैयारियां पूरी

माता मनसा देवी में 17 से 25 अक्तूबर तक आयोजित किये जाने वाले नवरात्र मेले की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस बार माता के दर्शनों के लिये पहले की तरह ई-टोकन जरूरी है, दर्शन के लिये समय भी 20 से घटाकर 10 सेकंड किया गया है। प्राथमिकता दर्शन के लिये श्रद्धालु को 50 रुपये बतौर चंदा देने होंगे और उन्हें गेट संख्या तीन से अंदर जाने की अनुमति होगी।

यह जानकारी आज यहां उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने एक प्रेस कांफ्रेंस में दी। उनके साथ माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एमएस यादव, सचिव शारदा प्रजापत भी मौजूद थीं। उन्होंने बताया कि दर्शनों के लिये अब तक 11 हजार ई-टोकन जारी हो चुके हैं। दिव्यांगों के लिये वीआईपी गेट के साथ लिफ्ट की व्यवस्था है। कोरोना महामारी के मद्देनजर मानक संचालन प्रक्रिया अनुसार हाथ-पांव धोने, थर्मल स्केनिंग और सफाई की पूरी व्यवस्था की जा चुकी है। सामाजिक दूरी बनाये रखने और कोराेना के प्रसार को रोकने के लिये बोर्ड द्वारा 8 जून से ऑनलाइन पंजीकरण की जो सुविधा शुरू की गई थी, वह नवरात्रों में भी जारी रहेगी। मंदिर में प्रवेश करने से पहले श्रद्धालुओं को नि:शुल्क रेपिड कोविड टेस्ट का प्रबंध किया जा रहा है।

मंदिर के अंदर नहीं मिलेगा प्रसाद

मंदिर के अंदर प्रसाद वितरण नहीं किया जायेगा। बाहर आने पर प्रसाद दिया जायेगा। इसके अलावा 100 और 200 ग्राम वजन के सूखे मेवों की गुणवत्ता वाले प्रसाद पैकेट ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन प्रदान करने के लिये पहली बार योजना शुरू की गई है। डाक सेवाओं के माध्यम से वितरित किये जाने वाले 100 व 200 ग्राम प्रसाद की लागत क्रमश: 101 व 151 रुपये रखी गई है। ऑफलाइन के तौर पर ऐसे प्रसाद की कीमत क्रमश: 50 व 100 रुपये तय की गई है। देशी घी का हलवा सभी श्रद्धालुओं को नि:शुल्क दिया जायेगा।

कोराेना मुक्ति हवन

मंदिर में दोनों वक्त कोरोना मुक्ति हवन किया जायेगा। हवन में गणमान्य व्यक्तियों को आमंत्रित किया जायेगा। धर्मशाला की बुकिंग ऑनलाइन शुरू कर दी है। कोविड टेस्ट की रिपोर्ट प्रस्तुत करने पर कमरे आवंटित किये जायेंगे। भंडारों में श्रद्धालुओं को दर्शन के बाद पैकेट प्रसाद दिया जा सकेगा। फेसबुक और यू टयूब चैनल पर लाइव आरती की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा श्रद्धालुओं की सुरक्षा व चिकित्सा सुविधा, बिजली आपूर्ति, स्वच्छता का प्रबंध किया गया है। इन कार्यों के लिये अधिकारियों की कमेटियां गठित की गई हैं। यज्ञशाला में एक साथ आठ-दस श्रद्धालु बैठ सकते हैं।

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

बलिया कांड के मुख्य आरोपी को अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेजा

जिले में राशन की दुकान के आवंटन के दौरान गोलीबारी में 46 साल की व्यक्ति की मौत के मामले में मुख्य आरोपी...

भारतीय गोल्फरों का खराब प्रदर्शन

भारतीय गोल्फर एसएसपी चौरसिया आज यहां 2020 स्कॉटिश चैंपियनशिप में चार ओवर 76 के लचर प्रदर्शन के साथ संयुक्त 18वें से संयुक्त...

गुरुग्राम 249 नये संक्रमित मिले

गुरुग्राम क्षेत्र में 249 लोग कोरोना की चपेट में आये हैं। वहीं 296 लोगों को संक्रमण मुक्त घोषित...

मोबाइल से फोटो खींचकर प्रश्नपत्र किया वायरल

हिमाचल पथ परिवहन निगम में कंडक्टर भर्ती परीक्षा सवालों के घेरे में आ गई है। परीक्षा में एक अभ्यार्थी की गलती का...

Recent Comments

Open chat