Thursday, October 29, 2020
Home NEWS NATIONAL गांवों के हर घर का बनेगा प्रॉपर्टी कार्ड

गांवों के हर घर का बनेगा प्रॉपर्टी कार्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां रविवार को ग्रामीण क्षेत्रों के भू-संपत्ति मालिकों को ‘स्वामित्व’ योजना के तहत प्रॉपर्टी कार्ड बांटने की योजना का शुभारंभ किया। इसके तहत भू-संपत्ति मालिकों को संपत्ति कार्ड वितरण शुरू हो गया है। गांवों के लोग अब भू-संपत्ति का वित्तीय संपत्ति के तौर पर उपयोग कर सकेंगे। इस योजना के तहत लगभग एक लाख भू-संपत्ति मालिक अपने मोबाइल फोन पर एसएमएस से आए लिंक से संपत्ति कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे। इसके बाद राज्य सरकारें संपत्ति कार्ड बांटेंगी।

वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुए कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने कई लाभार्थियों से बात भी की। स्वामित्व योजना के तहत जिन राज्यों के लोगों को कार्ड मिलेंगे उनमें उत्तर प्रदेश के 346 गांव, हरियाणा के 221 गांव, महाराष्ट्र के 100, उत्तराखंड के 50 और मध्य प्रदेश के 44 गांव शामिल हैं। देश की लगभग 60 फीसदी आबादी ग्रामीण इलाकों में रहती है। लेकिन अधिकतर लोगों के पास अपने घरों के मालिकाना हक के कागजात नहीं हैं। इसलिए यह योजना लाई गई। इसके तहत अब राज्य सरकारें हर गांव के प्रत्येक घर का प्रॉपर्टी कार्ड बनाने में लगी हैं। लोग इस कार्ड का उपयोग बैंकों से कर्ज लेने और अन्य कामों में भी कर सकेंगे।

मोदी ने कहा कि इस योजना से आत्मनिर्भर भारत अभियान में आज देश ने एक और बड़ा कदम उठा दिया है। स्वामित्व योजना, गांव में रहने वाले लागों को आत्मनिर्भर बनाने में बहुत मदद करेगी। इस योजना के तहत दिया गया दस्तावेज एक कानूनी कागज है। अगले 4 साल में हर गांव में इस तरह के प्रॉपर्टी के कागज देने का प्रयास किया जाएगा।

केंद्र सरकार की ‘स्वामित्व’ योजना पंचायती दिवस के अवसर पर बीती 24 अप्रैल को लॉन्च की गई थी। इसका पूरा नाम है- सर्वे ऑफ विलेजिस एंड मैपिंग विद इम्परोवाइज्ड टेक्नोलॉजी इन विलेज एरिया।

प्रधानमंत्री ने नये कृषि कानूनों का उल्लेख करते हुए कहा कि जिनकी राजनीति ‘दलालों और बिचौलियों’ के भरोसे चलती रही, वे लोग हमारी सरकार के सुधारवादी कदमों के बारे में ‘झूठ’ फैला रहे हैं। विपक्ष खासतौर पर कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा, ‘वर्षों तक जो लोग सत्ता में रहे, उन्होंने बातें तो बहुत बड़ी-बड़ी की, लेकिन गांवों के लोगों को उनके नसीब पर छोड़ दिया। मैं ऐसा नहीं होने दे सकता। इन लोगों को कृषि में किए गये ऐतिहासिक सुधार से दिक्कत हो रही है, वो बौखलाए हुए हैं।’ उन्होंने कहा कि कई लोग नहीं चाहते कि गांव, गरीब, किसान, श्रमिक भाई-बहन आत्मनिर्भर बनें। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने बीते छह साल में गांव और ग्रामीणों के लिए जितना काम किया है, उतना आजादी के छह दशकों में नहीं हुआ। मोदी ने विपक्ष का नाम लिए बगैर कहा कि पीढ़ी दर पीढ़ी ‘बिचौलियों, घूसखोरों और दलालों’ का तंत्र खड़ा करके जिन्होंने अपना मायाजाल बना रखा था, देश की जनता ने उनके मायाजाल को, उनके मंसूबों को ढहाना शुरू कर दिया है।

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

आटा घोटाले की जांच करवाई जाये : आप

पंजाब सरकार घोटालों की सरकार साबित होती जा रही है। चाहे वह 64 करोड़ रुपये के वजीफा घोटाले का मामला हो या...

फर्राटा विश्व चैंपियन कोलमैन पर दो साल का प्रतिबंध

पुरुष वर्ग में 100 मीटर के विश्व चैंपियन क्रिस्टियन कोलमैन पर डोपिंग नियंत्रण से जुड़े तीन नियमों का उल्लंघन करने के लिये...

बेरोजगारी, किसानों की समस्याओं पर कुछ नहीं बोलते पीएम : राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि अपने भाषणों में वह...

रोहतक में 96 प्रभावित, 654 एक्टिव केस

संक्रमण के बुधवार को 96 नये मामले सामने आये हैं। अधिकतर मरीजों को घरों पर ही आईसोलेट किया गया है। सीएमओ अनिल...

Recent Comments

Open chat