Wednesday, October 28, 2020
Home NEWS HARYANA हाईकमान से बात कर सीएम एवं प्रदेश अध्यक्ष ही करेंगे उम्मीदवार का...

हाईकमान से बात कर सीएम एवं प्रदेश अध्यक्ष ही करेंगे उम्मीदवार का निर्णय

बरोदा हलके के उपचुनाव में भाजपा-जजपा गठबंधन के उम्मीदवार पर विचार करने के लिए शनिवार को यहां भाजपा की

प्रदेश चुनाव समिति की बैठक हुई, इसमें उम्मीदवार का नाम तय करने का अंतिम फैसला मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और प्रदेशाध्यक्ष ओपी धनखड़ पर छोड़ दिया गया। दोनों नेता पार्टी हाईकमान से बातचीत के बाद उम्मीदवार की घोषणा करेंगे। संभव है, नामांकन की आखिरी तारीख से एक दिन पहले 15 अक्तूबर तक पार्टी उम्मीदवार की घोषणा कर दे। 

इससे पहले बैठक में उन सभी नामों पर विस्तार से चर्चा हुई, जिन्होंने टिकट के लिए आवेदन किया हुआ है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने बरोदा हलके को लेकर चुनाव समिति सदस्यों से कहा कि वे रोजाना की फीडबैक लें और कार्यकर्ताओं का मन टटोलने की कोशिश करें, ताकि उम्मीदवार का निर्णय करने में आसानी रहे। वहीं, बैठक में एक बात साफ हो गई कि भाजपा किसी अन्य पार्टी से आए नेता को टिकट नहीं देगा। हां, इतना जरूर है कि गठबंधन का कोई साझा उम्मीदवार भाजपा के निशान पर मैदान में उतर सकता है।

जिन 25 लोगों का नाम आवेदन सूची में है। उनमें प्रमुख रूप से पूर्व प्रत्याशी एवं ओलंपियन योगेश्वर दत्त, रणधीर लठवाल, विशाल मलिक, राजकुमार शर्मा, डाॅ. ओमप्रकाश शर्मा, रणधीर जागलान, पूर्व जिला प्रधान डाॅ. धर्मबीर नांदल, भूपेंद्र मोर, भलेराम नरवाल, सरपंच जगदीश, दादा बलजीत मलिक, रमेश हरियाणा और अशोक मलिक शामिल हैं।

भाजपा कार्यालय में सीएम मनोहर लाल व प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़ की अध्यक्षता में हुई बैठक में केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर, केंद्रीय राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया, पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह, गृहमंत्री अनिल विज, शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर, कृषि मंत्री जेपी दलाल, पूर्व मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, सांसद रमेश कौशिक, पूर्व सांसद सुधा यादव, संगठन मंत्री सुरेश भट्‌ठ, तीनों महामंत्री सांसद संजय भाटिया, संदीप जोशी, वेदपाल एडवोकेट, महिला इकाई की प्रदेशाध्यक्ष निर्मला बैरागी और सोनीपत के जिलाध्यक्ष एवं विधायक मोहन लाल बड़ौली मौजूद रहे। जबकि पूर्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु और केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह बैठक में नहीं पहुंचे।

बैठक में शामिल हुए नेताओं ने बताया कि चुनाव समिति की बैठक में बारीकी से चर्चा की गई। यह भी चर्चा हुई कि यहां से जाट या किसी गैर जाट उम्मीदवार को उतारने में क्या लाभ या हानि हो सकती है। कार्यकर्ताओं का मन क्या कहता है, ऐसे कौन-कौन उम्मीदवार हैं, जो किसी इलाका विशेष, खाप या गोत्र में दखल रखते हैं। किसी उम्मीदवार के प्रति लोगों का रवैया कैसा है? तमाम तरह के सवालों पर मंथन और चिंतन किया गया। इसके बाद तय यह हुआ कि सीएम और प्रदेशाध्यक्ष 25 नामों में से उम्मीदवार तय करेंगे और हाईकमान से चर्चा के बाद नाम घोषित कर दिया जाएगा। 

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

हाथरस मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट करेगा सीबीआई जांच की निगरानी : सुप्रीमकोर्ट

सुप्रीमकोर्ट ने मंगलवार को कहा कि हाथरस में दलित लड़की से कथित सामूहिक दुष्कर्म और मौत के मामले में सीबीआई जांच की...

भारत और अमेरिका के बीच दिल्ली में तीसरी ‘टू प्लस टू’ वार्ता

भारत और अमेरिका के बीच मंगलवार को तीसरी उच्च स्तरीय वार्ता शुरू हुई। इस वार्ता का लक्ष्य हिंद-प्रशांत क्षेत्र में संपूर्ण रक्षा...

पाकिस्तान के पेशावर में मदरसे में बम धमाका, 7 छात्रो‍ं की मौत, 70 से अधिक घायल

पाकिस्तान के एक उत्तरी-पश्चिमी इलाके में मंगलवार को एक मदरसे में हुए बम धमाके में 7 बच्चों की मौत हो गई जबकि...

लूटपाट, चोरी गरोह के 5 सदस्य गिरफ्तार

सदर खरड़ थाना पुलिस ने शहर में मोटरसाइकिल चोरी व लूटपाट करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार...

Recent Comments

Open chat