Wednesday, October 21, 2020
Home NEWS HARYANA हरियाणा की 6197 पंचायतें अब डिजिटल

हरियाणा की 6197 पंचायतें अब डिजिटल

हरियाणा की ग्राम पंचायतें भी अब आईटी (सूचना प्रौद्योगिकी) के हाईवे पर दौड़ती नजर आएंगी। प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतों का संपूर्ण रिकार्ड डिजिटल प्लेटफार्म पर लाने की दिशा में बड़ी कामयाबी मिली है। अभी तक प्रदेश की 6197 ग्राम पंचायतें डिजिटल हो चुकी हैं। शुक्रवार को गांधी जयंती के मौके पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने चंडीगढ़ से वर्चुअल माध्यम से ‘ग्राम दर्शन’ पोर्टल का शुभारंभ किया।

इस पोर्टल पर 6197 पंचायतों का पूरा डाटा अपलोड हो चुका है। इस मौके पर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला जिनके पास विकास एवं पंचायत विभाग भी है, मौजूद रहे। सीएम ने कहा कि ‘ग्राम दर्शन’ पोर्टल की शुरुआत के साथ राज्य के प्रत्येक गांव की पूर्ण हो चुकी विकास परियोजनाओं की जानकारी डिजिटल रूप से उपलब्ध होगी। साथ ही, ग्राम पंचायतों में कराए जाने वाले आवश्यक कार्यों की सूची भी इस पोर्टल पर उपलब्ध रहेगी।

दुनिया में कहीं भी बैठा कोई भी व्यक्ति ग्राम पंचायतों का विवरण देख सकेगा। सीएम ने कहा, यह राज्य सरकार का विजन था कि प्रत्येक गांव की अपनी वेबसाइट होनी चाहिए ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि ग्रामीणों विशेषकर युवाओं को उनके गांव में करवाए जा रहे विकास कार्यों, परियोजनाओं व योजनाओं की जानकारी हो। इससे वे अपनी आवश्यकता के अनुसार मांगों को राज्य सरकार के समक्ष रख सकते हैं। इसी सोच के साथ ‘ग्राम दर्शन’ की कल्पना की गई। खट्टर ने कहा कि ‘ग्राम दर्शन’ का मुख्य विजन ग्राम पंचायतों की वेबसाइट के माध्यम से सभी सरकारी सेवाओं को आम लोगों के लिए सुलभ बनाना है। इससे उनकी मूलभूत जरूरतों को पूरा करने के लिए भी ऐसी सभी सेवाओं की दक्षता, पारदर्शिता और विश्वसनीयता को सुनिश्चित किया जा सकेगा। सीएम व डिप्टी सीएम ने इस दौरान विभिन्न गांवों के सरपंचों, पंचों और ग्राम सचिवों से भी बातचीत की। इस मौके पर डिप्टी सीएम दुष्यंत सिंह चौटाला ने कहा कि ‘ग्राम दर्शन’ की अवधारणा आज के समय में चुनौतियों को दूर करते हुए केवल एक क्लिक के माध्यम से ग्रामीणों को जरूरी जानकारी प्रदान करेगी। ‘ग्राम दर्शन’ पर अन्य विभागों की विकास योजनाओं से संबंधित जानकारी और विस्तृत दिशा-निर्देशों को भी अपलोड किया जाएगा।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ग्राम पंचायत के नागरिकों द्वारा वोटिंग के आधार पर विकास कार्यों को प्राथमिकता देने के लिए एक तंत्र विकसित किया जाए। विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव सुधीर राजपाल ने सीएम को अवगत कराया कि ‘ग्राम दर्शन’ का मुख्य उद्देश्य सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) का उपयोग करके ग्रामीणों के लिए ‘ग्राम दर्शन’ को सूचनाओं के हब के रूप में विकसित करना, पंचायतों में बेहतर पारदर्शिता, जवाबदेही, दक्षता और आरटीआई अनुपालन सुनिश्चित करना है। ‘ग्राम दर्शन’ पोर्टल पर 10 ग्राम पंचायतों का डाटा पहले ही अपलोड किया जा चुका है।

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

डिफाल्टरों को दिखानी होगी मास्क वाली सेल्फी

ऐप आधारित टैक्सी सेवा देने वाली कंपनी उबर ने कहा है कि उसके जिन यात्रियों ने अपनी पिछली यात्रा के दौरान मास्क...

भोंडसी गांव में राम मंदिर की जगह पर नहीं बनेगा पुलिस थाना

गांव भोंडसी में ग्रामीणों ने राम मंदिर की जमीन पर पुलिस थाना बनवाने के पंचायत के फैसले का कड़ा विरोध किया है।...

बुजुर्ग ने खुद के सिर में मारी गोली, गंभीर

मनीमाजरा के हाउसिंग काॅम्पलैक्स डूपलेक्स में सोमवार तड़के केंद्र सरकार से रिटायर्ड इंजीनियर ने खुद को गोली मार ली। 70 वर्षीय सुरेन्द्र...

प्ले वे स्कूल प्राइवेट संस्थाओं को सौंपने का फैसला वापस ले सरकार

वर्तमान सरकार द्वारा निजीकरण को बढ़ावा देने के लिए आए दिन विभिन्न विभागों को बंद करने का जो निर्णय लिया जा रहा...

Recent Comments

Open chat