Wednesday, October 21, 2020
Home NEWS कल से शुरू होगा अनिश्चितकालीन रेल रोकाे आंदोलन

कल से शुरू होगा अनिश्चितकालीन रेल रोकाे आंदोलन

राष्ट्रपति द्वारा कृषि बिल को पास करने तथा केंद्र सरकार द्वारा इसे कानून लागू करने के चलते किसानों में भारी रोष है। इस बिल के लागू होने के विरोध में भारतीय किसान यूनियन लक्खोवाल ने घोषणा की है कि कृषि बिल के विरोध में पंजाब में एक अक्तूबर से अनिश्चितकाल के लिए ट्रेनों को रोका जायेगा। इस सम्बन्ध में यूनियन की अहम बैठक जिला प्रधान दारा सिंह माइसरखाना की अध्यक्षता में गुरुद्वारा मस्तूआणा साहिब तलवंडी साबो में हुई। बैठक में यूनियन के प्रदेश मुख्य सचिव रामकरण सिंह रामा विशेष रूप से उपस्थित हुए। इस दौरान उन्होंने किसानों से कहा कि केंद्र सरकार द्वारा कृषि अध्यादेश के बाद इस कानून के लागू होने से किसान मजदूर और आढ़तियों पर इसका बुरा असर पड़ेगा और बड़े कारपोरेट घरानों का मंडियों पर पूर्ण रूप से कब्जा हो जायेगा। किसान अपनी फसल एमएसपी से कम मूल्य पर बेचने के लिए विवश हो जायेगा क्योंकि इस बिल के कारण मंडी बोर्ड टूट जायेगा और मंडियों से सरकारी खरीद बंद हो जाएगी।

बिल वापस नहीं होने तक संघर्ष जारी रहेगा

भाकियू नेता दारा सिंह माइसरखाना ने कहा कि कृषि अध्यादेश किसानों को उजाड़ने वाला बिल है। उन्होंने कहा कि कृषि अध्यादेश को बिहार में लागू होने के बाद बिहार के किसानों का उजाड़ा शुरू हो गया था, जिसके बाद बिहार के किसान मेहनत मजदूरी के लिए अन्य राज्यों की और पलायन करने पर विवश हो गये। उन्होंने बताया कि बठिंडा जिले में तीन स्थानों बठिंडा, मौड़ व रामपुरा में रेल ट्रैक को जाम किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जब तक केंद्र सरकार इस बिल को वापस नहीं लेगी तब तक संघर्ष जारी रहेगा।

‘रेल रोको’ संघर्ष तेज करने का फैसला

अमृतसर/फिरोजपुर (एजेंसियां) : नये कृषि कानूनों को लेकर विरोध कर रहे किसानों ने मंगलवार को छठे दिन भी ‘रेल रोको’ आंदोलन जारी रखा और इसे अनिश्चितकाल तक बढ़ाने का निर्णय किया है। ‘किसान मजदूर संघर्ष समिति’ के बैनर तले किसान 24 सितंबर से ही राज्य में विभिन्न स्थानों पर रेलवे पटरियों पर धरना दिये हुए हैं। उन्होंने कहा कि वे केंद्र के खिलाफ आंदोलन को तेज करेंगे और टांडा, मुकेरियां, जालंधर, अमृतसर तथा फिरोजपुर में रेल पटरियों पर जाम जारी रखेंगे। प्रदर्शनकारी नये कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। बहरहाल, किसानों के आंदोलन के बीच पंजाब में रेल सेवाएं निलंबित हैं। किसान नेता शविंदर सिंह चौटाला ने कहा कि अगले महीने रेल रोको आंदोलन को और तेज किया जाएगा।

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

डिफाल्टरों को दिखानी होगी मास्क वाली सेल्फी

ऐप आधारित टैक्सी सेवा देने वाली कंपनी उबर ने कहा है कि उसके जिन यात्रियों ने अपनी पिछली यात्रा के दौरान मास्क...

भोंडसी गांव में राम मंदिर की जगह पर नहीं बनेगा पुलिस थाना

गांव भोंडसी में ग्रामीणों ने राम मंदिर की जमीन पर पुलिस थाना बनवाने के पंचायत के फैसले का कड़ा विरोध किया है।...

बुजुर्ग ने खुद के सिर में मारी गोली, गंभीर

मनीमाजरा के हाउसिंग काॅम्पलैक्स डूपलेक्स में सोमवार तड़के केंद्र सरकार से रिटायर्ड इंजीनियर ने खुद को गोली मार ली। 70 वर्षीय सुरेन्द्र...

प्ले वे स्कूल प्राइवेट संस्थाओं को सौंपने का फैसला वापस ले सरकार

वर्तमान सरकार द्वारा निजीकरण को बढ़ावा देने के लिए आए दिन विभिन्न विभागों को बंद करने का जो निर्णय लिया जा रहा...

Recent Comments

Open chat