Wednesday, October 21, 2020
Home NEWS अर्धनग्न होकर किसान रेल लाइन पर बैठे

अर्धनग्न होकर किसान रेल लाइन पर बैठे

पंजाब के अमृतसर शहर में रेल पटरी पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के एक समूह ने संसद से पारित कृषि विधेयकों के खिलाफ शनिवार को विरोध स्वरूप अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया।

बगैर कमीज रेल की पटरी पर बैठे प्रदर्शनकारियों ने भाजपा नीत केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कृषि विधेयकों को वापस लेने की मांग की। किसान मजदूर संघर्ष समिति के तहत प्रदर्शन कर रहे ये किसान 24 सितंबर से अमृतसर के देवीदासपुरा गांव के निकट रेल की पटरी पर बैठे हैं। किसान मजदूर संघर्ष समिति के महासचिव सरवण सिंह पंधेर ने कहा कि किसानों ने सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने के लिये विरोधस्वरूप अपने कुर्ते और कमीजें उतार दी हैं। समिति ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि वह अपने तीन-दिवसीय ‘रेल रोको’ आंदोलन को तीन दिन के लिये बढ़ा रही हैं। अब 26 से 29 सितंबर के बीच भी उनका आंदोलन जारी रहेगा।

किसानों ने रेल लाइन पर लगाया धरना

बठिंडा (निस) : आज भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के सैकड़ों सदस्यों ने यहां से लगभग 19 किलोमीटर दूर बठिंडा-बीकानेर रेललाइन पर संगत मंडी के पास धरना दिया। इस अवसर पर किसान नेता कुलवंत शर्मा और राम सिंह कोटगुरु ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पास किये कृषि अध्यादेश किसानों व समाज के लिए घातक हैं। यह कानून सरकारी खरीद की गारंटी समाप्त करता है तो दूसरी तरफ व्यापारियों को किसानों की लूट की छूट देगा।

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

डिफाल्टरों को दिखानी होगी मास्क वाली सेल्फी

ऐप आधारित टैक्सी सेवा देने वाली कंपनी उबर ने कहा है कि उसके जिन यात्रियों ने अपनी पिछली यात्रा के दौरान मास्क...

भोंडसी गांव में राम मंदिर की जगह पर नहीं बनेगा पुलिस थाना

गांव भोंडसी में ग्रामीणों ने राम मंदिर की जमीन पर पुलिस थाना बनवाने के पंचायत के फैसले का कड़ा विरोध किया है।...

बुजुर्ग ने खुद के सिर में मारी गोली, गंभीर

मनीमाजरा के हाउसिंग काॅम्पलैक्स डूपलेक्स में सोमवार तड़के केंद्र सरकार से रिटायर्ड इंजीनियर ने खुद को गोली मार ली। 70 वर्षीय सुरेन्द्र...

प्ले वे स्कूल प्राइवेट संस्थाओं को सौंपने का फैसला वापस ले सरकार

वर्तमान सरकार द्वारा निजीकरण को बढ़ावा देने के लिए आए दिन विभिन्न विभागों को बंद करने का जो निर्णय लिया जा रहा...

Recent Comments

Open chat