Sunday, September 20, 2020
Home NEWS NATIONAL सेना के पीछे खड़ा है देश, संसद देगी संदेश : मोदी

सेना के पीछे खड़ा है देश, संसद देगी संदेश : मोदी

कोरोना वायरस महामारी से जुड़े दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए सोमवार को संसद का मानसून सत्र शुरू हो गया। इसमें हिस्सा लेने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्वास जताया कि संसद एक स्वर में यह संदेश देगी कि वह सीमाओं की रक्षा करने वाले वीर सैनिकों के साथ एकजुटता से खड़ी है। लद्दाख में चीन के साथ चल रहे गतिरोध के संदर्भ में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय सैनिक दुर्गम पहाड़ी इलाकों में बहादुरी के साथ अपना कर्तव्य निभा रहे हैं। आने वाले समय में वहां बर्फबारी भी होनी है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘जिस विश्‍वास के साथ वो खड़े हैं, मातृभूमि की रक्षा के लिए डटे हुए हैं, यह संसद और इसके सभी सदस्‍य एक स्‍वर से, एक भाव से, एक भावना से, एक संकल्‍प से संदेश देंगे कि सेना के वीर जवानों के पीछे पूरा देश खड़ा है।’

दरअसल, विपक्ष लद्दाख में चीन से तनाव समेत विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी में है। लोकसभा में कांग्रेस दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने चीन के मुद्दे पर स्थगन प्रस्ताव का नोटिस भी दिया था, जिसे स्पीकर ओम बिड़ला ने नामंजूर कर दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने खुद पहल कर विपक्ष को संदेश दे दिया कि सभी सांसदों को एक सुर में सेना के साथ खड़े होने का संदेश देना चाहिए।

लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने पर स्पीकर ओम बिड़ला ने कोरोना के मद्देनजर सदन के कामकाज के नये नियमों की जानकारी दी। संसद में इस बार प्रश्नकाल नहीं करने का फैसला किया गया है। इसके लिए संसदीय कार्यमंत्री प्रह‍्लाद जोशी की तरफ से पेश प्रस्ताव को सदन ने ध्वनिमत से मंजूरी दे दी। हालांकि, कांग्रेस समेत विपक्षी दलों ने प्रश्नकाल को निलंबित करने का विरोध किया और सरकार पर सवालों से बचने का आरोप लगाया। इस पर जोशी से लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यह असाधारण परिस्थिति है, जिसमें राजनीतिक दलों को सहयोग करना चाहिए। इससे पहले लोकसभा में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और इस साल दिवंगत हुए सांसदों को श्रद्धांजलि दी गयी।

कोरोना काल में बुलाए इस मानसून सत्र के दौरान दोनों सदनों की कार्यवाही रोज 4-4 घंटे ही चलेगी। सोशल डिस्टेंसिंग के मद्देनजर इस सत्र में दोनों सदनों के कक्षों तथा गैलरियों को भी एक-दूसरे की बैठक के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। सांसदों की मेजों के आगे कांच की शील्ड लगाई गई है। सांसदों को बैठकर ही अपनी बात रखने की अनुमति दी गई है। सांसद हाजिरी लगाने के लिए ऐप का उपयोग कर रहे हैं।

जेडीयू सांसद हरिवंश नारायण सिंह दोबारा राज्यसभा के उपसभापति चुने गये हैं। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के उम्मीदवार हरिवंश ने विपक्ष की ओर से आरजेडी उम्मीदवार सांसद मनोज झा को ध्वनि मत से हराया।

कोरोना के मद्देनजर सांसदों के वेतन में एक वर्ष के लिए 30 फीसदी कटौती करने वाला विधेयक सोमवार को लोकसभा में पेश किया गया। इससे जुड़े अध्यादेश को 6 अप्रैल को मंत्रिमंडल की मंजूरी मिली थी और यह 7 अप्रैल को लागू हुआ था।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत आरक्षण के मौजूदा प्रावधानों को संशोधित करने की कोई योजना नहीं है। निशंक ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा, ‘आरक्षण नीति को संशोधित करने का कोई प्रावधान नहीं है।’

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

नयी शिक्षा नीति का मकसद उत्कृष्टता : कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि नयी शिक्षा नीति का मकसद समावेशी और उत्कृष्टता के दोहरे उद्देश्य को हासिल करके...

पार्टी में गोलीबारी : 2 की मौत, 14 घायल

न्यूयॉर्क के रोचेस्टर में शनिवार की सुबह एक पार्टी में हुई गोलीबारी की घटना में 2 लोगों की मौत हो गई जबकि...

हिमाचल में कल से खुल जाएंगे स्कूल

हिमाचल प्रदेश में आगामी सोमवार से स्कूल खुल जाएंगे। मंत्रिमंडल के फैसले के बाद शिक्षा विभाग ने स्कूल खोलने के बारे में...

सितंबर में सितारों की बदली चाल इस हफ्ते राहु-केतु बदलेंगे घर

इस महीने कुछ मुख्य ग्रह अपना स्थान व चाल बदल चुके हैं और कुछ बदलने वाले हैं।  गत 16 सितंबर को सूर्य...

Recent Comments

Open chat