Sunday, September 20, 2020
Home SPORTS CRICKET नये भारत के उदाहरण हैं धोनी

नये भारत के उदाहरण हैं धोनी

दो बार के विश्व कप विजेता पूर्व क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भावुक पत्र लिखा है। मोदी ने पत्र में लिखा, ‘आप नये भारत की भावना के महत्वपूर्ण उदाहरणों में से एक हैं, जिसमें युवाओं की तकदीर परिवार के नाम से नहीं लिखी जाती। वे खुद अपना नाम और भाग्य बनाते हैं।’ उन्होंने लिखा, ‘यह मायने नहीं रखता कि हम कहां से आते हैं, जब तक हमें यह पता हो कि हमें कहां जाना है। आपने यह जज्बा दिखाया है और इसके साथ कई युवाओं को प्रेरित किया।’

धोनी ने अपने ट्विटर पेज पर यह पत्र साझा किया है। मोदी ने यह भी लिखा कि सिर्फ एक खिलाड़ी के तौर पर धोनी का आकलन अन्याय होगा, क्योंकि उनका प्रभाव असाधारण रहा है। उन्होंने लिखा, ‘महेंद्र सिंह धोनी नाम सिर्फ आंकड़ों या मैच जिताने में भूमिकाओं के लिए याद नहीं रखा जायेगा। सिर्फ एक खिलाड़ी के तौर पर उनका आकलन ज्यादती होगी।’

प्रधानमंत्री ने धोनी के शांतचित्त रवैये की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपकी हेयरस्टाइल क्या है। आपका शांत रवैया हार और जीत में समान रहा, जो हर युवा के लिए काफी अहम है।’ धोनी अपने करियर में अलग-अलग हेयरकट के लिए भी विख्यात रहे हैं। शुरुआती दौर में उनके लंबे बाल हुआ करते थे, जिसकी पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने भी तारीफ की थी। उन्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों और विकेटकीपरों में शामिल करते हुए मोदी ने कहा, ‘कठिन परिस्थितियों में आप भरोसेमंद साबित हुए और मैच को जीत तक ले जाने की आपकी शैली लोगों की यादों में पीढ़ियों तक रहेगी, खासकर 2011 विश्व कप फाइनल।’

प्रादेशिक सेना में मानद् लेफ्टिनेंट कर्नल धोनी ने प्रधानमंत्री को प्रशंसा के लिये धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, ‘एक कलाकार, सैनिक या खिलाड़ी प्रशंसा ही चाहता है। वह यही चाहता है कि उसकी मेहनत और बलिदान को पहचान और प्रशंसा मिले। आपकी प्रशंसा और शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी।’

आपका व्यवहार करोड़ों युवाओं के लिए प्रेरणा

प्रधानमंत्री ने लिखा, एक छोटे शहर के साधारण परिवार से आने के बाद आप राष्ट्रीय स्तर पर चमके और अपना नाम रोशन करने के साथ भारत को गौरवान्वित किया, जो सबसे महत्वपूर्ण है। प्रधानमंत्री ने कहा कि धोनी की कामयाबी और व्यवहार करोड़ों युवाओं को ताकत, प्रेरणा देता है, जो उनकी तरह बड़े स्कूलों या कॉलेजों में नहीं पढ़े या बड़े परिवारों से नहीं हैं, लेकिन उनमें इतनी प्रतिभा है कि उच्चतम स्तर पर अलग पहचान बना सकें। मोदी ने उन्हें भविष्य के लिए शुभकामना भी दी। उन्होंने कहा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि साक्षी (धोनी की पत्नी) और जीवा (बेटी) को आपके साथ अधिक समय मिलेगा। उनके बलिदान और सहयोग के बिना यह कुछ नहीं हो पाता।’

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

नयी शिक्षा नीति का मकसद उत्कृष्टता : कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि नयी शिक्षा नीति का मकसद समावेशी और उत्कृष्टता के दोहरे उद्देश्य को हासिल करके...

पार्टी में गोलीबारी : 2 की मौत, 14 घायल

न्यूयॉर्क के रोचेस्टर में शनिवार की सुबह एक पार्टी में हुई गोलीबारी की घटना में 2 लोगों की मौत हो गई जबकि...

हिमाचल में कल से खुल जाएंगे स्कूल

हिमाचल प्रदेश में आगामी सोमवार से स्कूल खुल जाएंगे। मंत्रिमंडल के फैसले के बाद शिक्षा विभाग ने स्कूल खोलने के बारे में...

सितंबर में सितारों की बदली चाल इस हफ्ते राहु-केतु बदलेंगे घर

इस महीने कुछ मुख्य ग्रह अपना स्थान व चाल बदल चुके हैं और कुछ बदलने वाले हैं।  गत 16 सितंबर को सूर्य...

Recent Comments

Open chat