Sunday, September 20, 2020
Home NEWS NATIONAL 101 रक्षा उपकरणों के आयात पर रोक, स्वदेशी को बढ़ावा

101 रक्षा उपकरणों के आयात पर रोक, स्वदेशी को बढ़ावा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने घरेलू रक्षा उद्योग को बढ़ावा देने की एक महत्वपूर्ण पहल करते हुए रविवार को ऐलान किया कि 101 हथियारों व सैन्य उपकरणों के आयात पर रोक लगाई जाएगी। इनमें हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, मालवाहक विमान, पारंपरिक पनडुब्बियां और क्रूज मिसाइल भी शामिल हैं। यह रोक 2020 से 2024 के बीच चरणबद्ध तरीके से लगाई जाएगी। रक्षा मंत्री ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि रक्षा मंत्रालय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ आह्वान को आगे बढ़ाते हुए बड़े कदम उठाने को तैयार है। उन्होंने अनुमान जताया कि अगले 5 से 7 साल में घरेलू रक्षा उद्योग को करीब 4 लाख करोड़ रुपये के अनुबंध मिलेंगे। उन्हाेंने कहा कि एक अन्य महत्वपूर्ण कदम के तहत रक्षा मंत्रालय ने 2020-21 के पूंजीगत खरीद बजट को घरेलू व विदेशी पूंजीगत खरीद में विभक्त किया है। चालू वित्त वर्ष में घरेलू खरीद के लिए करीब 52 हजार करोड़ रुपये का अलग बजट बनाया गया है।

अधिकारियों के अनुसार, 101 वस्तुओं की सूची में टोएड आर्टिलरी बंदूकें, सतह से हवा में मार करने वाली कम दूरी की मिसाइलें, क्रूज मिसाइलें, अपतटीय गश्ती जहाज, इलेक्ट्रॉनिक युद्ध प्रणाली, अगली पीढ़ी के मिसाइल पोत, फ्लोटिंग डॉक, पनडुब्बी रोधी रॉकेट लाॅन्चर और कम दूरी के समुद्री टोही विमान शामिल हैं। बुनियादी प्रशिक्षण विमान, हल्के रॉकेट लाॅन्चर, मल्टी बैरल रॉकेट लाॅन्चर, मिसाइल डेस्ट्रॉयर, जहाजों के लिए सोनार प्रणाली, रॉकेट, दृश्यता की सीमा से परे हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलें अस्त्र-एमके 1, हल्की मशीनगन व आर्टिलरी गोला बारूद (155 एमएम) और जहाजों पर लगने वाली मध्यम श्रेणी की बंदूकें भी सूची में शामिल हैं।

राजनाथ ने कहा, ‘यह रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की दिशा में एक बड़ा कदम है। सूची की घोषणा के पीछे का उद्देश्य सशस्त्र बलों की आवश्यकताओं के बारे में भारतीय रक्षा उद्योग को अवगत कराना है, ताकि वे स्वदेशीकरण का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए बेहतर रूप से तैयार हो सकें।’ रक्षा मंत्री ने कहा कि मंत्रालय ने तीनों सेनाओं, रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन, रक्षा क्षेत्र के सार्वजनिक उपक्रमों, आयुध कारखाना बोर्ड और निजी उद्योगों सहित सभी संबंधित पक्षों के साथ कई दौर की बातचीत के बाद यह सूची तैयार की है।

69 वस्तुओं के आयात पर प्रतिबंध इसी साल

एक सरकारी दस्तावेज के अनुसार, 69 वस्तुओं पर आयात प्रतिबंध दिसंबर 2020 से लागू होगा, जबकि अन्य 11 वस्तुओं पर प्रतिबंध दिसंबर 2021 से लागू होगा। दिसंबर 2022 से आयात प्रतिबंधों के लिए 4 वस्तुओं की एक अलग सूची की पहचान की गयी है, जबकि 8 वस्तुओं के दो अलग-अलग खंडों पर प्रतिबंध दिसंबर 2023 और दिसंबर 2024 से लागू होगा। लंबी दूरी की लैंड अटैक क्रूज मिसाइलों पर आयात प्रतिबंध दिसंबर 2025 से लागू होगा।

प्रधानमंत्री 15 अगस्त को पेश करेंगे नयी रूपरेखा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में आत्मनिर्भर भारत के लिए एक नयी रूपरेखा प्रस्तुत करेंगे। स्वतंत्रता सेनानी एवं क्रांतिकारी उधम सिंह को श्रद्धांजलि देने के लिए आयोजित एक ऑनलाइन कार्यक्रम में रक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार के विभिन्न विभाग एवं मंत्रालय आत्मनिर्भर भारत की पहल को लागू करने के प्रति गंभीरता से काम कर रहे हैं। यह स्वदेशी पर महात्मा गांधी के जोर को एक नया आयाम देने की कोशिश है।

रक्षा मंत्री की घोषणा सिर्फ शब्दजाल : चिदंबरम

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की घोषणा को महज ‘शब्दजाल’ करार दिया। उन्होंने कहा, ‘रक्षा उपकरणों का एकमात्र आयातक रक्षा मंत्रालय है। आयात पर कोई भी प्रतिबंध वास्तव में स्वयं पर प्रतिबंध है। रक्षा मंत्री ने रविवार को अपनी ऐतिहासिक घोषणा में जो कहा, उसके लिए उनके सचिवों को केवल मंत्री के कार्यालय आदेश की आवश्यकता थी। आयात पर प्रतिबंध केवल शब्दजाल है। इसका अर्थ यह है कि हम दो से चार साल में उन्हीं उपकरणों (जिन्हें हम आज आयात करते हैं) को बनाने की कोशिश करेंगे और इसके बाद आयात बंद करेंगे।’

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पंजाब में 70 ने तोड़ा दम 2496 नये मामले

पंजाब में सोमवार को कोरोना से 70 और लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही राज्य में इस महामारी से दम...

मतलब यह नहीं कि फैसला मान लिया

वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को कहा कि अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा उन पर लगाये गये एक रुपये का सांकेतिक...

जीत के करीब पहुंचकर हारा ऑस्ट्रेलिया

तेज गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर इंगलैंड ने दूसरे एक दिवसीय क्रिकेट मैच में आॅस्ट्रेलिया को 24 रन से हराकर...

अमेरिका में ऑरैकल का होगा टिकटॉक

अमेरिका में लोकप्रिय वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक के अधिग्रहण की दौड़ में ऑरैकल ने माइक्रोसॉफ्ट को पछाड़ दिया है। सत्य नाडेला की...

Recent Comments

Open chat