Tuesday, September 22, 2020
Home NEWS राम मंदिर की नींव के लिए दिल्ली के 11 स्थानों की मिट्टी...

राम मंदिर की नींव के लिए दिल्ली के 11 स्थानों की मिट्टी भेजी अयोध्या

श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण की तैयारियों के बीच विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने दिल्ली के 11 पवित्र स्थानों व नागपुर से आरएसएस मुख्यालय की मिट्टी पीतल के कलशों में भरकर शुक्रवार को अयोध्या भेजी। विहिप के केन्द्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार एवं दिल्ली प्रांत अध्यक्ष कपिल खन्ना ने दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मिट्टी से भरे पीतल के कलशों को अयोध्या के लिए रवाना किया। आलोक कुमार ने संवाददाताओं को बताया कि 5 अगस्त को भूमि पूजन के साथ बहु प्रतीक्षित मंदिर निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। मंदिर की नींव में डालने के लिए देशभर की नदियों का जल और पवित्र स्थानों की मिट्टी को अयोध्या भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि विहिप की दिल्ली प्रांत इकाई ने इस पवित्र मिट्टी को इकट्ठा किया है। इन पवित्र स्थानों में सिद्ध पीठ कालकाजी, पुराना किला स्थित प्राचीन पांडव कालीन भैरव मंदिर, चांदनी चौक स्थित गुरुद्वारा शीशगंज, गौरी शंकर मंदिर, श्री दिगंबर जैन लाल मंदिर, कनॉट प्लेस स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर, प्राचीन शिव नवग्रह मंदिर, प्राचीन काली माता मंदिर, श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर बिरला मंदिर, मंदिर मार्ग स्थित भगवान वाल्मीकि मंदिर, करोल बाग स्थित बद्री भगत झंडेवालान मंदिर शामिल हैं।
बाबरी मामला आडवाणी ने दर्ज कराया बयान
लखनऊ (एजेंसी) : भाजपा के वयोवृद्ध नेता पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने बाबरी मस्जिद ढहाये जाने के मामले की सुनवायी कर रही सीबीआई की विशेष अदालत के समक्ष शुक्रवार को वीडियो कान्फ्रेंस से बयान दर्ज कराया। बृहस्पतिवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी ने भी वीडियो कान्फ्रेंस से बयान दर्ज कराया था।
भूमि पूजन के खिलाफ याचिका खारिज
प्रयागराज (एजेंसी) : इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए पांच अगस्त को प्रस्तावित भूमि पूजन पर रोक लगाने की मांग वाली एक जनहित याचिका बृहस्पतिवार को खारिज कर दी। चीफ जस्टिस गोविंद माथुर और जस्टिस एसडी सिंह की पीठ ने मुंबई स्थित सामाजिक कार्यकर्ता साकेत गोखले की याचिका खारिज की। याचिकाकर्ता ने कोविड-19 महामारी के दौरान अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए भूमि पूजन कार्यक्रम पर रोक लगाने का अनुरोध करते हुये दलील दी थी कि यह केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल का उल्लंघन है। याचिकाकर्ता ने कहा कि पांच अगस्त को एक ही स्थान पर करीब 300 लोगों को आमंत्रित किया गया है और इससे कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखने के उद्देश्य से केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल का उल्लंघन हो सकता है।

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

घुसपैठ नाकाम, सीमा पर मादक पदार्थ और हथियार बरामद

बीएसएफ ने ‍जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश नाकाम की है, साथ ही एक-एक किलोग्राम हेरोइन...

कोरोना के बाद शायद 2 करोड़ लड़कियां स्कूल नहीं लौट पाएंगी : मलाला

नोबेल पुरस्कार से सम्मानित मलाला यूसुफजई ने कहा है कि कोरोना संकट खत्म होने के बाद भी दो करोड़ लड़कियां शायद स्कूल...

मोहनलाल बने जोगिंदरा कोऑपरेटिव बैंक के डायरेक्टर

औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन के मोहनलाल चंदेल को जोगिंदरा सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक सोलन का निदेशक नियुक्त किया गया। इस नियुक्ति पर मोहनलाल चंदेल...

फेसबुक तटस्थ, बिना किसी भेदभाव के काम कर रहा मंच

फेसबुक इंडिया के प्रमुख अजीत मोहन ने सत्तारूढ़ भाजपा सदस्यों के कथित घृणा फैलाने वाले भाषणों से निपटने के तरीके का बचाव...

Recent Comments

Open chat