Thursday, October 1, 2020
Home NEWS CRIME फोन कॉल्स के जरिए दिल्ली में आतंक फैलाने की साजिश में खालिस्तानी...

फोन कॉल्स के जरिए दिल्ली में आतंक फैलाने की साजिश में खालिस्तानी आंतकी

गुरपटवंत की दर्जनों खालिस्तानी समर्थक वेबसाइटस और सोशल मीडिया अकाउंट्स सस्पेंड किए जाने के बाद अब वह सीधे रिकॉर्डेड फोन कॉल्स के जरिए खलिस्तान के नाम पर आतंकवाद फैला रहा है. दिल्ली में ऐसे कॉल आने शुरू हो गए हैं.

गृह मंत्रालय द्वारा डेजिग्नेटिड खालिस्तानी आतंकवादी घोषित होने और पंजाब के अमृतसर और कपूरथला में दो आपराधिक मामले दर्ज होने के बाद सिख फॉर जस्टिस (SFJ) का आतंकवादी गुरपटवंत सिंह पन्नू बौखला गया है.

गुरपटवंत की दर्जनों खालिस्तानी समर्थक वेबसाइटस और सोशल मीडिया अकाउंट्स सस्पेंड किए जाने के बाद अब वह सीधे रिकॉर्डेड फोन कॉल्स के जरिए खलिस्तान के नाम पर आतंकवाद फैला रहा है.

भारत सरकार, पंजाब सरकार के अलावा पत्रकारों और पुलिस अधिकारियों को लगातार धमकियां दे रहा गुरपटवंत जब पंजाब और हरियाणा में रेफरेंडम 2020 के लिए समर्थन हासिल नहीं कर पाया तो उसने रिकॉर्डिंग कॉल्स का सहारा लेना शुरू कर दिया.

पाकिस्तान से भी आ रही कॉल्स

कभी न्यूयॉर्क, कभी बेल्जियम तो कभी पाकिस्तान से फोन कॉल करवाई जा रही है. पंजाब और हरियाणा के लाखों लोगों को प्रतिदिन तीन से चार बार फोन कॉल्स आ रही है. इन रिकॉर्डेड फोन कॉल्स में गुरपटवंत पंजाब को भारत से आजाद करवाने की बात करता है.

यही नहीं, जब यह आतंकवादी लोगों से समर्थन नहीं जुटा पाया तो उसने लोगों को पैसों का लालच देना भी शुरू कर दिया.

पहले कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों को 5,000 रुपये देने का लालच दिया गया और अब सैनिकों को वेतन के अलावा 5,000 रुपये अतिरिक्त देने का लालच दिया जा रहा है.

पंजाब के नेताओं के निशाने पर गुरपटवंत सिंह पन्नू

हाल ही डेजिग्नेटिड आतंकवादी घोषित होने के बाद अब खालिस्तानी आतंकवादी गुरपटवंत पंजाब के राजनेताओं के निशाने पर भी है.

भारतीय जनता पार्टी के नेता विनीत जोशी ने सीधे तौर पर कहा कि गुरपटवंत सिंह पन्नू न तो खुद एक सिख है न उसके पास सिख होने की कोई पहचान है. वह खालिस्तान के नाम पर सिखों की पहचान को दागदार कर रहा है.

उन्होंने कहा कि कहने को उसके संगठन का नाम सिखस फॉर जस्टिस है लेकिन असल में वह सिखों के साथ अन्याय कर रहा है.

उसे न तो पंजाब से कुछ लेना देना है और न सिखों से. वह सिर्फ खालिस्तान खाली के नाम पर आईएसआई और विदेशों में बैठे कुछ लोगों से पैसा ऐंठ रहा है. जोशी के मुताबिक यह आतंकवादी अब तक रेफरेंडम 2020 के नाम पर बड़े-बड़े होटलों में ठहर कर अपने साथियों के साथ मौज करता आया है.

उधर आम आदमी पार्टी के सहअध्यक्ष अमन अरोड़ा ने कहा कि पंजाब के लोग खलिस्तान और आतंकवाद दोनों को नकार चुके हैं . गुरपतवंत सिंह पन्नू द्वारा चलाए जा रहे रेफरेंडम 2020 की कोई रेलीवेंस नहीं है. वह सिर्फ और सिर्फ खालीस्तान के नाम पर लूटपाट कर रहा है.

अमन अरोड़ा ने कहा कि गुरपतवंत सिंह पन्नू आईएसआई का एजेंट है और वह विदेश में बैठे लोगों से राजनीतिक शरण के नाम पर पैसा इकट्ठा करता है.

Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शेखर कपूर बने एफटीआईआई के अध्यक्ष

फिल्मकार शेखर कपूर को पुणे के भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) सोसायटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। उन्हें संस्थान की...

अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने पर फैसला आज

लखनऊ स्थित सीबीआई की विशेष अदालत कल बुधवार को अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा ढहाए जाने के केस में...

एमएसपी और उपज बेचने की आजादी, दोनों रहेंगी

नये कृषि कानूनों को लेकर प्रदर्शनाें के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कांग्रेस पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि...

रकुलप्रीत की शिकायत पर अदालत ने केन्द्र से जवाब मांगा

दिल्ली उच्च न्यायालय ने अभिनेत्री रकुल प्रीत सिंह की उस शिकायत पर मंगलवार को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई)...

Recent Comments

Open chat