Thursday, October 1, 2020
Home NEWS NATIONAL 80 करोड़ लोगों को हर माह 5 किलो मुफ्त राशन

80 करोड़ लोगों को हर माह 5 किलो मुफ्त राशन

केंद्र सरकार ने कोरोना संकट के मद्देनजर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार दीवाली और छठ पूजा यानी नवंबर के अंत तक कर दिया है। इससे 80 करोड़ गरीब लोगों को और 5 महीनों तक मुफ्त राशन मिलेगा। कोरोना काल में छठी बार देश को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि सारी एहतियात बरतते हुए आर्थिक गतिविधियों को आगे बढ़ाया जाएगा।
उन्होंने कहा, ‘त्योहारों का समय जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक यानी नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए।’ सरकार इस दौरान सरकार 80 करोड़ से ज्यादा गरीबों को हर महीने 5 किलो गेहूं या 5 किलो चावल मुफ्त देेगी। ‘साथ ही प्रत्येक परिवार को हर महीने 1 किलो चना भी मुफ्त दिया जाएगा।’ इस अन्न योजना के विस्तार में 90 हजार करोड़ से ज्यादा खर्च होंगे।

मोदी बोले

  • समय रहते लॉकडाउन व अन्य फैसलों से कई लोगों की जान बची, पर अनलॉक- 1 शुरू होने के बाद लापरवाही बढ़ी है। ऐसा मत करें
  • हर कोई स्वास्थ्य दिशा निर्देशों का सही तरीके से पालन करे। गांव के प्रधान हों या प्रधानमंत्री, कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं हैं।
  • अब सरकारों, स्थानीय निकाय की संस्थाओं , देश के नागरिकों को फिर से पहले जैसी सतर्कता दिखाने की जरूरत है।
  • नियमों का पालन न करने वालों को टोकना होगा, रोकना होगा और समझाना होगा।
  • हाल ही में एक देश के प्रधानमंत्री पर 13 हजार का जुर्माना इसलिए लगा, क्योंकि वह सार्वजनिक जगह पर बिना मास्क पहने गए थे। भारत में भी प्रशासन को इसी चुस्ती से काम करना चाहिए।…ये बता कि काफ़िला क्यूं लुटा
  • कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन में चीन के साथ गतिरोध का उल्लेख नहीं होने की ओर इशारा करते हुए मंगलवार को प्रधानमंत्री पर शायरी के माध्यम से निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया, ‘तू इधर-उधर की न बात कर, ये बता कि काफ़िला क्यूं लुटा, मुझे रहज़नों से गिला नहीं, तेरी रहबरी का सवाल है।’
  • उम्मीदें धराशायी हुईं : कांग्रेस
  • कांग्रेस ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सारी उम्मीदों को धराशायी कर दिया क्योंकि उन्होंने चीन के साथ गतिरोध तथा गरीबों की आर्थिक मदद करने के संदर्भ में कुछ नहीं कहा। पार्टी प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने यह दावा भी किया कि प्रधानमंत्री का संबोधन कहीं न कहीं बिहार विधानसभा चुनाव की ओर केंद्रित नजर आया। ‘ हमें उम्मीद थी कि वह मजदूरों के लिए निर्णायक कदम उठाएंगे। हमें उम्मीद थी कि गरीब परिवारों को 7500 रुपये प्रति माह देने की घोषणा करेंगे
Avatar
aakedekhhttps://aakedekh.in
Aakedekh : Live TV लाइव Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

शेखर कपूर बने एफटीआईआई के अध्यक्ष

फिल्मकार शेखर कपूर को पुणे के भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) सोसायटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। उन्हें संस्थान की...

अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने पर फैसला आज

लखनऊ स्थित सीबीआई की विशेष अदालत कल बुधवार को अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा ढहाए जाने के केस में...

एमएसपी और उपज बेचने की आजादी, दोनों रहेंगी

नये कृषि कानूनों को लेकर प्रदर्शनाें के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कांग्रेस पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि...

रकुलप्रीत की शिकायत पर अदालत ने केन्द्र से जवाब मांगा

दिल्ली उच्च न्यायालय ने अभिनेत्री रकुल प्रीत सिंह की उस शिकायत पर मंगलवार को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई)...

Recent Comments

Open chat